पूर्व तृणमूल पार्षद की बस मालिक के ऊपर दादागिरी

AABTAK KHABAR,2 DECEMBER,हावड़ा : हावड़ा मैदान के पास पूर्व पार्षद और उनके साथियों ने बस कार्यालय में ताला जड़ दिया। घटना हावड़ा मैदान के पास बस स्टैंड पर घटी। गोलाबाड़ी थाने की पुलिस पूरी घटना की जांच में जुट गयी है।

24/ए/1 हावड़ा मैदान के पास बस स्टैंड है। हावड़ा मैदान मुकुंदपुर मार्ग पर प्रतिदिन 37 बसें चलती हैं। साथ ही उस बस स्टैंड से लंबी दूरी की कई बसें संचालित होती हैं। बस मालिकों की शिकायत है कि हावड़ा नगर पालिका के वार्ड नंबर 16 के पूर्व तृणमूल पार्षद मोहम्मद रुस्तम और उनकी टीम ने जबरन स्टैंड के स्टार्टर रूम में ताला लगा दिया। इसके अलावा उनका आरोप है कि पूर्व पार्षद ने उन लोगों से पैसों देने के लिए धमकाया। तथा यह भी शिकायत है की पूर्व परिषद के लोग बस स्टैंड पर विभिन्न प्रकार की शराब और गांजा बेचने के साथ ही असामाजिक लोगों के साथ मैं लिए रहते हैं। वे इस घटना से डरे हुए हैं। बस मालिकों ने हावड़ा सिटी पुलिस कमिश्नर और गोलाबाड़ी पुलिस स्टेशन में लिखित शिकायत दर्ज कराई। मोहम्मद रुस्तम और उसके गिरोह को आज दोपहर बस स्टैंड के आसपास घूमते देखा गया। पुलिस आई तो उन्हें भी धमकाया गया. हालांकि, मोहम्मद रुस्तम ने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों से इनकार किया है.

इस दिन उन्होंने कहा कि बस मालिक अवैध तरीके से स्टैंड पर बसें लगा रहे हैं. बसों को सड़क पर चलने की अनुमति है लेकिन पार्किंग की अनुमति नहीं है। वह जगह है हावड़ा नगर पालिका की. इसलिए उन्होंने कार्यालय में ताला लगा दिया। हावड़ा नगर निगम के अध्यक्ष सुजॉय चक्रवर्ती ने कहा कि इसकी जांच की जायेगी कि बस स्टैंड हावड़ा नगर पालिका की जमीन पर है या नहीं.और यह जांच की जाएगी कि बस मालिकों के पास वहां बस रखने की अनुमति है या नहीं. उन्होंने यह भी कहा कि पूर्व पार्षद होने के बावजूद इस तरह ताला बंद करना ठीक नहीं है. जमीनी स्तर के कार्यकर्ताओं को ऐसा काम नहीं करना चाहिए जिससे लोगों को असुविधा हो।